#CompassionDay: क्या है Compassion Day जिसके बारे में सब बात कर रहे हैं?

Latest Prophet as Mercy Shuja Khan
Share this post
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

#CompassionDay: हमारा रब अल्लाह, क़ुरआन में बड़े साफ़ लफ़्ज़ों में फ़रमाता है कि हमारे रसूल हज़रत मुहम्मद ﷺ तमाम जहानों रहमत हैं। नबी-ए-करीम ﷺ सिर्फ़ इस दुनिया के लिए ही नहीं बल्कि तमाम आलमीन के लिए रहमत हैं। सिर्फ़ इंसानों के लिए ही नहीं बल्कि हर मख़्लूक़ के लिए रहमत हैं।

हमने तुम्हें तमाम जहानों के लिए बस एक रहमत बनाकर भेजा है। (21:107)

रहमत को अंग्रेजी में Compassion कहते हैं। Compassion Day का मतलब हुआ यौम-ए-रहमत यानि रहमत का दिन। मुसलमानों के लिए अगर कोई शख़्सियत सबसे अज़ीम हैं तो वह हैं हज़रत मुहम्मद ﷺ। इस साथ मुस्लमान पूरी दुनिया में 12 रबीउल अव्वल को अलग-अलग तरह से नबी-ए-करीम ﷺ से अपनी मोहब्बत का इज़हार करते हैं। लेकिन इस साल से मुसलमानों ने यह फ़ैसला किया हैं 12 रबीउल अव्वल को अल्लाह की मख़्लूक़ का रहमत और भलाई के काम करेंगे, क्यूंकि नबी-ए-करीम ﷺ तमाम जहानों के लिए रहमत हैं और इस रहमत का पैग़ाम सब तक पहुंचना चाहिए। 12 रबीउल अव्वल को मुसलमान की ये भी मांग है कि इस दिन को United Nations (संयुक्त राष्ट्र) #CompassionDay तस्लीम करे, जिसके लिए मुस्लमान ने change .org नाम की वेबसाइट पर एक अर्ज़ी भी संयुक्त राष्ट्र के नाम दी है जिसे मुसलमानों की भारी तादाद पसंद और साइन कर रही है।

देखने को मिल रहा है की मुस्लमान ने अभी से बड़े जोश और जज़्बे के साथ #CompassionDay की तैयारी भी शुरू कर दी है।

अगर दुनिया के मुस्लमान इस मुहीम में हिस्सा लें तो इस से न सिर्फ़ रहमत लिल आलमीन की रहमत का पैग़ाम दुनिया भर में आम होगा बल्कि समाज को भी इस से बेहिसाब फ़ायदा होगा। साथ ही मुस्लमान अपना खोया हुआ वक़ार और भरोसा भी हासिल कर सकेंगे और कुछ ही सालों में संयुक्त राष्ट्र इसे #CompassionDay तस्लीम करेगा।

मुसलमान को बस 12 रबीउल अव्वल को कोई भी रहमत और भलाई का काम करना है और उसे अपने सोशल मीडिया पर Hashtag #CompassionDay के साथ पोस्ट करना है।

हम सब मिलकर रहमत की शुरुआत करते हैं
नबी की रहमत को पूरी दुनिया में आम करते हैं।

12 रबी-उल-अव्वल को मख्लूक़-ए-ख़ुदा में से किसी के साथ भी रहमत का सुलूक करें और उसे अपने सोशल मीडिया पर Hashtag #CompassionDay के साथ पोस्ट करें। ताकि रहमतुल लिल आलमीन का पैग़ाम पूरी दुनिया तक पहुंचे

Vote for Prophet Muhammad ﷺ http://chng.it/vbqbVR4Xpz

Facebook Comments

Share this post
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Tagged

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *