Islam and Humanity! Muslim or Human!

इस्लाम और इंसानियत! मुस्लिम या इंसान

इस्लाम और इंसानियत! मुस्लिम या इंसान – मुस्लमान और इंसान दोनों अरबी शब्द हैं और क़ुरआन में भी ये दोनों शब्द काफी बार आये हैं। आईये एक एक करके

Continue Reading
ईमान वालो, ईमान लाओ!

ईमान वालो, ईमान लाओ!

आज पूरी दुनिया में मुसलमानों की संख्या 180 करोड़ हैं, लेकिन क्या इतनी ही संख्या ईमान वालों की भी है? हम ये समझते हैं की जो इंसान मुस्लिम घर में पैदा हुआ या जिसने कलमा पढ़ा वह ईमान वाला है। लेकिन क्या ये 180 करोड़ मुस्लमान अल्लाह की फेहरिस्त (सूचि) में भी मुस्लिम हैं? में […]

Continue Reading
इस्लाम में महिलाओं के अधिकार

इस्लाम में महिलाओं के अधिकार

इस्लाम में महिलाओं के अधिकार इस दुनिया में महिलाओं का बोहत हैं किरदार है। लेकिन जब महिलाओं के अधिकार की बात आती है तो हम देखते हैं की इस

Continue Reading
अल्लाह से मुहब्बत ईमान की निशानी है!

अल्लाह से मुहब्बत ईमान की निशानी है!

अल्लाह से मुहब्बत की बात शुरू करने से पहले मैं थोड़ी ईमान की बात करना चाहता हूं, हम मुस्लिम आम तौर पर खुद को ईमान वाला कहते हैं, लेकिन क्या हमने कभी गौर किया कि ईमान की खुसूसियात क्या हैं? क़ुरआन ईमान वालों के लिए और मुस्लिमों के लिए दो अलग इस्तेलाह इस्तेमाल करता है, […]

Continue Reading

मुसलमानों की दवा

एक मरीज़ को अगर सही दवा और डॉक्टर मिल जाये जो उसकी बिमारी सही होने के चान्सेस (chances) बढ़ जाते हैं लेकिन अगर बीमारी का डायग्नोसिस (diagnosis) ग़लत हो और इलाज दूसरी दिशा में चलने लगे तो बिमारी बढ़ती जाती है और मरीज़ की हालत खराब हो जाती है।  जितनी देर से इलाज किया जाये […]

Continue Reading